कश्मीर को जाने क्या हुआ है,

कश्मीर को जाने क्या हुआ है,
बुरी नजर का शिकार हुआ है,
मस्त बहारों में खेलने वाला,
लाशों के ढेर पे अब पडा है,
हिन्दु मुस्लिम दो भाईयों मे,
ये बन के विवाद खडा है,
दोनो इस के लिए लडतें हैं,
ये इन दोनो क्या हुआ है,
कश्मीर को जाने क्या हुआ है,
बुरी नजर का शिकार हुआ है,
दहशत के बादल अब मंडरातें हैं यहां,
बरसना खून अब यहां आम हुआ है,
कुछ आतें हैं सरहद पार से,
धमाके कर के चले जातें हैं,
उजाडतें हैं कई परिवारों को
कईयों का खून बहातें हैं,
बेच दिया ईमान तूने अपना,
इन्सान तुझे ये क्या हुआ है,
कश्मीर को जाने क्या हुआ है,
बुरी नजर का शिकार हुआ है,
“योगेश शर्मा योगी”