शिक्षा सबका अधिकार ।

ज्ञान का भंडार,
हर बच्चो का अधिकार ।
धनी, गरीब सबका अधिकार,
सबको शिक्षा मिले समान ।
अंधकार को हटाना है,
शिक्षा का जोत जालना है।
शिक्षा सब को दिलवाना है,
भारत को उन्न्त बनाना है।
पसीना हम खूब बहायेंगे,
भारत को उन्न्त हम बनाएँगे।
भूखे हम सोजाएँगे,
बच्चो को खूब पढ़ाएंगे ।
ज्ञान का दीप जलएँगे,
हर इंसान को हम जगाएँगे ।
महंगाई से लारना है,
शिक्षा को ढाल बनाना है ।
दूर-दूर तक जाएँगे,
शिक्षा का प्रकाश फैलाएँगे ।
भारत को हुमे बचाना है,
शिक्षा आंचल ओढ़ना है।

— संदीप कुमार सिंह ।
तेजपुर विश्वविध्यालया

2 Comments

  1. डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 17/08/2015
  2. संदीप कुमार सिंह sandeep 27/08/2015

Leave a Reply