हाफिज

तेरा हाफिज जब खुदा ही है, तो तुझे किस बात का डर।

हौसला रख मुश्किलों से लड़, हर वक्त न घुट-घुट के मर।

मन्जिल तो तुझे मिल ही जायेगी, बस उसकी कीमत अदा कर।

तेरा हाफिज जब खुदा ही है, तो तुझे किस बात का डर।