सच

सच होता ही है कड़वा सच
सच छुपता ही नहीं छुपाने से ।।

सच बोलता है जो हमेशा
जाता है वह इस ज़माने से ।।

सच को पकड़ कर जो चलता है
पीछे रह जाता है वह ज़माने में ।।

Leave a Reply