सिर्फ मुस्कान देखी सबने

सिर्फ मुस्कान देखी सबने ,
किसी ने दिल का क्रंदन देखा ही नही
कहीं हो न जाओ तुम बदनाम मेरे नाम से
इसलिए मैंने इस बात को किसी से बोला भी नही
मगर दिल का झरना भी आज बह निकला आँखों से
जिसने देखा उसको बोला की कमबख्त आँखों का दर्द रुकता ही नही …