सुनो

कवि सुनो!
जितनी कविताएँ लिखना
उतने तुम पेड़ उगाना
बढ़ेंगे / फलेंगे पेड़
तो रहेंगी / कहेंगी कविताएँ

Leave a Reply