चमचागीरी-75

नौकरी में तुम्हें क्या बताएं किस कदर चोट खाए हुए हैं;
चमचों ने रुलाया है हमको चमचागीरी के सताए हुए हैं.

Leave a Reply