!! यादो की दुनिया !!

    1. तेरी यादो की हमने,
      एक अलग दुनिया बसाई है
      नीले नीले अम्बर पे,
      सितारों से तेरी तस्वीर बनाई है !!

      तेरी यादो की हमने,
      एक अलग दुनिया बसाई है….!!

      जब जब देखा ख्वाब में,
      हर तरफ तेरी तस्वीर नजर आई है
      काली काली रातो ने,
      हमारी आँखों से निंदिया चुराई है !!

      तेरी यादो की हमने,
      एक अलग दुनिया बसाई है….!!

      जब जब शाम ढ़ले,
      दीपो में तू जगमगाई है !
      रोशन हुई रात काली,
      सिमट के आँचल में सरमाई है !!

      तेरी यादो की हमने,
      एक अलग दुनिया बसाई है….!!

      धरा के आँचल पर,
      झिलमिलाती चुनरी लहलाई है
      साँवलें से मुखड़े पर,
      चाँद की बिंदिया सजाई है !!

      तेरी यादो की हमने,
      एक अलग दुनिया बसाई है
      नीले अम्बर पे हमने,
      सितारों से तेरी तस्वीर बनाई है !!
      !
      !
      ( डी के. निवतियाँ )

Leave a Reply