माग लो ये जहान् …..!!

माग लो ये जहान् …. !!

माग लो ये जहान् ,
या फिर जेहन ले लो ,
मगर दिल के मीठे अधूरे
अरमान मत लो !
कहो तो कुर्वान कर दू
जान तुझ पर ,
मगर मेरी जान ! मुझसे
मेरी पहचान मत लो !!

हर हसीन् मुलाकात ले लो
और सात जन्मो का साथ ले लो ,
छोड दू तेरे लिये ये सारी कायनात
मगर ये उभरे हुये जजबात मत लो !
मेरी खुशियो का खूबसूरत ये चमन ले लो
ख्वाबो का महकता हुआ गुलशन ले लो ,
मुनक्कश क्या इसका , मरमरी बदन लेलो
पर मुझे सताने के लिये सौतन मत लो !!

मान्ग लो ये घर , ये जर ले लो
और लगे तो मेरे आठो पहर लेलो ,
ये झुका सर तुम्हारे लिये है
पर सच्ची पाकी नजर मत लो !
मेरी मौत के लिये जहर ले लो
या खून करने को खन्जर ले लो,
कफन ले लो मुझे दफन करने के वासते
पर प्यारा सुहाना ये मन्जर मत लो !!

(अनुज तिवारी)
ar ang ty

Leave a Reply