मेरे गुरुवर, तेरी दया हम भूल न पायें

मेरे गुरुवर, दया तेरी हम भूल न पायें
तेरे बातों को हम गा-गा सबको सुनायें

तेरा वो सत्संग सुनाना,
ज्ञान की बातें हँसना हँसाना
वो प्यारी अदायें, बहुत याद आएं
मेरे गुरुवर दया तेरी हम भूल न पायें
ज्ञान का प्याला तूने पिलाया
सहज में आत्मानंद दिलाया
तुझ सा दयालु जग में कोई और न पायें
मेरे गुरुवर, दया तेरी हम भूल न पायें

ऐसे क्यों हो रूठे हमसे
हम सब तेरे दरस को तरसें
तेरी यादों के सहारे कब तक दिन काटें जायें
मेरे गुरुवर, दया तेरी हम भूल न पायें
तेरी यादें हर पल आयें, नैना नीर बहायें ||

‪#‎सत्यशील‬

Leave a Reply