बीवी के सपने ……

    1. ************************************
      बीवी के सपने
      ************************************

      काश !! ..पतिदेव मेरे होते अलादीन का चिराग,
      हसरते पल में पूरी होती !
      न रहती कोई चिंता फ़िक्र किसी बात की,
      मेरी मन मर्जी होती !
      जब करता मन कुछ काम कराने का
      रगड़ा मारकर बुलाती !
      न होता कोई झनझट काम धाम का,
      सब क्षण में कराती !
      बनकर मेरा नौैकर वो सिर झुका के रहता,
      और मै हुकुम चलाती !
      बंगला, गाडी, धन दौलत होती बेसुमार,
      मै महारानी होती !
      कभी न बात मनवाने को लड़ना पड़ता,
      न खुशामद करती !
      दिन भर करती घर में आराम मजे से
      रात में पैर उससे दबवाती !
      घूमती हरपल उसको रखकर अपनी जेब में,
      जब चाहा तमन्ना पूरी कराती !!
      ************************************
      ************************************

      डी. के निवातियाँ ____________@@@

2 Comments

  1. Binoy Kandhway 24/05/2015
    • डी. के. निवातिया निवातियाँ डी. के. 05/06/2015

Leave a Reply