चमचागिरी-48

चमचों की क्या तारीफ़ करे हम कुछ कहते हुए भी डरते हैं;
इस बात से ये न समझ लेना हम चमचागीरी से मुहब्बत करते हैं.

Leave a Reply