मुश्किल है

मुश्किल है ,
मेरे लिए कर पाना,
वो सब
जो कर पाते हैं मेरे जैसे लोग.
मुश्किल है ,
मेरे लिए,
कानून को जीतने के लिए ,
कानून के बाबुओं को पैसे दे पाना .
मुश्किल है ,
अपने बचो को कम वेतन में,
अच्छे और महंगे स्कूलों में शिक्षा दे पाना .
मुश्किल है ,
मेरे लिए ,
अपने घर का,
महीने भर का रासन जुटा पाना.
मुश्किल है,
मेरे लिए
अपने बाबू जी को ,
उनकी दवाई दिला पाना .
मुश्किल है,
मेरे लिए ,
क्लर्क की नौकरी में ,
अपनी बीवी को बनारसी साड़ी दिला पाना.
मेरे सहकर्मी मुझ पर हंसा करते है,
मुझे ईमानदार बेवकूफ समझा करते है .
मेरी बीवी अक्सर मुझे ताने कसा करती है ,
मुझे बार- बार पीहर जाने की धमकी दिया करती है .
मुश्किल है,
मेरे लिए ,
अपने अस्तित्व को बचा रखा पाना .
मुश्किल है
मेरे लिए ,
मुझे अपने होने का वजूद बचा पाना.

One Response

  1. आमिताभ 'आलेख' आमिताभ 01/05/2015

Leave a Reply