चमचागीरी -16

हर नौकरी का एक ही अंदाज़ होता है;
हर चमचा होता है तीर और हर बॉस तीरंदाज़ होता है.

Leave a Reply