।। तुम कहते थे ।।

।।तुम कहते थे।।

तुम कहते थे
मेरे आँख के आंशू
पहचान है तेरे प्यार की
तुम चले गये
ढह गये मेरे भी
जो आँखों में रहते थे
तुम कहते थे

तुम कहते थे
और तुमने ही कर डाले थे वादे
उम्र भर के लिए
निभाने के लिये
मैंने तो तुम्हे रोका था
डरते थे
तुम कहते थे

तुम कहते थे
मेरी फ़िक्र मत करना
मुझे मालुम नही था
मैं तो करता हूँ
ये दिल हैं
पहले भी करते थे
तुम कहते थे

*****

Leave a Reply