इलाही मुझ पर तु बस इतना करम कर दे !

इलाही मुझ पर तु बस इतना करम कर दे !
जागी हैं तडप दिल में उसे तु खबर कर दे !!
हो गर इनायत उसकी मुझ पर तो अच्‍छा हैं !
नहीं तो मुझे तु मुझसे बेखबर कर दे !!

अविनाश कुमार

Leave a Reply