बाल कविताएँ

भों, भों, भों
मेरा प्यारा टामी कुत्ता,
घर जाऊँ तो पूँछ हिलाता,
मेरे साथ बॅाल खेलता,
चोर आए तो भों, भों, करता ।

टप,टप,टप

घोड़ा टप,टप, है करता,
उसकी मैं सवारी करता,
लम्बी पूँछ हिलाता जाता,
हिन-हिन करता दौड़ा जाता ।

पों,पों,पों

देखो मैं कार चलाऊँ,
हट जाओ जब मैं हार्न बजाऊँ,
लाल बत्ती पर रूक जाऊँ,
हरी बत्ती पर सबसे आगे जाऊँ ।

हाथी

मोटा हाथी लम्बी पूँछ,
बड़े कान छोटी आँख,
लम्बी सूँडसे केला खाता,
पानी में डुबकी लगाता।

गोल,गोल,गोल

सूरज गोल चंदा गोल,
साइकिल का पहिया गोल,
लड्डू गोल पेढ़ा गोल,
रोटी खाऊँ गोल,गोल ।

खो,खों,खों

बन्दरवाला आया,
डुगडुगी को बजाया,
बन्दर को नचाया,
लकड़ी लेकर भगाया ।

Leave a Reply