जीवन…

वो जीना भी क्या जीना
अगर जिंदगी में कुछ कम ना हो
सब कुछ हो नहीं सकता तेरे पास
तो सोच कर खुशी कम क्यों हो ?

जीते तो सभी हैं अपने लिए
गैरों के होठों पे हसीं ला के तो देखो
वक़्त तो कभी न होगा तेरे पास
अपने खास को खास होने का एहसास दिला के तो देखो ।

कितने भी लंबे हो सफर
जीतें तो लोग पल भर के लिए हैं
सब कुछ हो नहीं सकता तेरे पास
सब होके भी लोगों के गम कम नहीं हुए हैं।

Leave a Reply