ऐतबार कर लेना!!

जो झुक गई पलकें,
तो इकरार कर लेना!
लबों से ना कह सको तो,
आँखों से इजहार कर लेना!
आखिरी सांस तक तुम्हें,
चाहने की चाहत है,
जो थम गई सासें,
तो ऐतबार कर लेना!!
-श्रेया आनंद
(18th Sept, 2014)

Leave a Reply