अपने दर्द से

जब से तुमने मेरे दर्द में, अपनी खुशियां तलाशनी शुरू कर दी !
तब से मैंने अपने दर्द से, अपनी खुशियां तराशनी शुरू कर दी !!
-श्रेया आनंद
(4th Nov 2013)

Leave a Reply