तेरी याद में जीना…

तेरी मोहब्बत, अता सी लगती है !
तेरी याद में जीना, आदत सी हो गई है !
खामोश लम्हों में, साए सा आना तेरा,
तनहाइयों को छेड़ कर, मुझे सताना तेरा,
यूँ छा गया है तेरा इश्क मुझ पर,
कर गया है पागल बाहों में भरकर, की अब,
तेरी इन शरारतों की, चाहत सी हो गई है !
तेरी याद में जीना, आदत सी हो गई है !!
-श्रेया आनंद
(23rd Oct, 2013)

Leave a Reply