तुमने याद किया

तुमने याद किया______!!!

हवाये जाने क्यों महकी, लगता है तुमने याद किया !
सदाए जाने क्यों बहकी, लगता है तुमने नाम लिया !!

गले में अटकी हिचकी क्यों, क्या दुआओ में याद किया !
सांसो की लय नही रूकती क्यों,ऐसा तुमने काम किया !!

तमन्ना दिल में फिर मचली, बैचैन निगाहों ने किया !
मौसम ने रुत बदली है क्यों, क्या तुमने पैगाम दिया !!

बादल जाने क्यों उमड़े है ,कड़कती बिजली ने शोर किया !
बहके आज क्यों मेरे कदम, लगता है तुमने याद किया !!

सुर क्यों बिगड़े धड़कन के, जाने क्यों बहके मेरा जिया !
अब कैसे बहलाऊ खुद को,लगता है तुमने महसूस किया !!

नींद नही आती क्यों,लगता ख्वाबो ने आना छोड़ दिया !
तन्हाई जाने क्यों रहती , लगता है तुमने याद किया !!

डी. के. निवातियाँ ______!!!

Leave a Reply