Dard Dil Ka, Saha Nahi Jata.

पता नहीं वक़्त कैसे कटता है,
काश घड़ी की हलचल दिल से होती
और उसे किसीसे मोहोब्बत होती,
तब देखते वक़्त कैसे कटता वक़्त का
और हाल रफ़्तार से बदलती दुनिया काl

Leave a Reply