मेहँदी लगा के रखना

कोरस:
ये कुड़ियाँ नशे दियाँ पुड़ियाँ
ये मुंडे गली के गुंडे
ये कुड़ियाँ नशे दियाँ पुड़ियाँ
ये मुंडे गली के गुंडे
नशे दियाँ पुड़ियाँ
गली के गुंडे

ब: हो, हो
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना
लेने तुझे ओ गोरी, आएंगे तेरे सजना
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना, ओ हो, ओ हो

ल: ओ, आ
सहरा सजाके रखना, चहरा छुपाके रखना
सहरा सजाके रखना, चहरा छुपाके रखना
ये दिल की बात अपने, दिल में दबाके रखना

कोरस:
सहरा सजाके रखना, चहरा छुपाके रखना
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना

होय, होय, होय
होय, होय, होय

ब: उड़ उड़के तेरी ज़ुल्फ़ें, करती हैं क्या इशारे
दिल थाम के खड़े हैं, आशिक सभी कंवारे

ल: छुप जाए सारी कुड़ियाँ, घर में शर्म के मारे
गाँव में आ गए हैं, पागल शहर के सारे

ब: नज़रें झुकाके रखना, दामन बचाके रखना
नज़रें झुकाके रखना, दामन बचाके रखना
लेने तुझे ओ गोरी, आएंगे तेरे सजना

कोरस:
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना
सहरा सजाके रखना, चहरा छुपाके रखना

ब: मैं एक जवान लड़का, तू एक हसीन लड़की
ये दिल मचल गया तो, मेरा कुसूर क्या है

ल: रखना था दिल पे काबू, ये हुस्न तो है जादू
जादू ये चल गया तो, मेरा कुसूर क्या है

ब: रस्ता हमारा तकना, दरवाज़ा खुला रखना
रस्ता हमारा तकना, दरवाज़ा खुला रखना
लेने तुझे ओ गोरी, आएंगे तेरे सजना

ल: कुछ और अब न कहना, कुछ और अब न करना
कुछ और अब न कहना, कुछ और अब न करना
ये दिल की बात अपने, दिल में दबाके रखना

कोरस:
महंदी लगाके रखना, डोली सजाके रखना
सहरा सजाके रखना, चहरा छुपाके रखना

शावा
होय, होय
शावा
होय, होय
शावा
होय, होय

Leave a Reply