तुझ संग प्रीत लगाई सजना- कवि विनय भारत

तुझ संग प्रीत लगाई सजना

तुझे देख के आई रचना

तेरे दिल ने तुझे कुछ कहा नही

मेरे दिल ने पुकार लगे सजना…

कवि विनय भारत

Leave a Reply