कम्युनिस्तीचिस्की रबोता

दोबरदेन प्रियातेली
क्या है नई ख़बर?
गत रात सामने आया
नया तथ्य, नया शोध?
क्यों जुटे हैं काम के दिन
लोग यों सड़कों पर?

तोचनो तका

मालूम नहीं
बैलीकतरनोवो से निकली है
कंकालों की खाल
बरसों पुरानी
मिले कई ध्वस्त गाँव

काक मोझे प्रियातेली?

Leave a Reply