गुलाब का सौन्दर्य

गुलाब का सौन्दर्य

गुलाब का सौन्दर्य

ऐ गुलाब तुम्हारा रूप,

एक कमाल है ।

जिस हाथ में जाए,

वो एक धमाल है ।

तुम्हारी खुशबू को प्रकृति ने दिया,

एक अदभुत उपहार है ।

तुम्हारी एक एक पत्ती,

बालक समान है ।

जो दिखने में,

भगवान का अवतार है ।

वो एक तू ही है,

सिर्फ तू ही है जो मित्रता का आधार है ।

तुम्हारी खुशबू से,

महका आँगन एक गुले-गुलजार है ।

तुम्हारी चाहत में,

हर कोई बेकरार है ।

ऐ गुलाब तू एक धमाल है,

तुम्हारी एक-एक पत्ती धमाल है ।

तुम्हारे समूह से बना गुलदस्ता,

बेहद स्वर्ग का आभास है ।

देवेश दीक्षित

9582932268

One Response

  1. Devraj 21/04/2014

Leave a Reply