नेता जी की यात्रा

नेता जी की यात्रा

नेता जी निकले यात्रा पर,

लेकर छड़ी टोपी सिर पर ।

बड़े जोश में पाओं धरे ,

पूछने पर बोले अस्पताल चले ।

जोड़ों में बड़ा है दर्द,

तुम क्या जानो तुम हो मर्द ।

बड़ी देर में जांच कराई,

तब जा कर स्मृति आई ।

इलाज कराना है जरुरी ,

इंग्लॅण्ड जा कर होगी पूरी ।

पैसों की चिंता मत करना,

जनता पर दिया है धरना  ।

कर लगा कर हमने उन पर,

पूरा किया है खर्चा अक्सर  ।

जनता कि मत पूछो करनी,

वे तो हैं भेड़ और बकरी ।

जिसका हमने फायदा उठाया,

हवाई जहाज का टिकट बनवाया ।

यही हमारी नीति है,

जो नेता में जरुरी है ।

अब न हमको तुम रोको,

जाना है हमको रास्ता छोडो ।

नेता जी निकल चुके यात्रा पर,

लेकर छड़ी टोपी सिर पर ।

जनता को मूर्ख बनाया,

कहते यही है हमारी माया  ।

 

 

देवेश दीक्षित

9582932268

Leave a Reply