माला माँ अम्बे की

माँ अम्बे की माला,
जपेला कोई दिल वाला।
उस माला को सीता जी जपीं,
मिल गया दशरथ लाला।
जपेला—————-॥
उस माला को राधा ने जपा,
मिल गया मुरली वाला ।
जपेला—————-॥
उस माला को गौरी ने जपा,
मिल गया डमरू वाला ।
जपेला—————-॥
उस माला को लક્ષमी ने जपा,
मिल गया चक्र वाला ।
जपेला—————–॥
माँ अम्बे की माला,
जपेला कोई दिल वाला ॥

Leave a Reply