प्यार

बिना पाए खोने का गम
साथ नहीं है पर बिछड़ने का गम
तुझ से जुदा होने का गम
साँस दर साँस तुझमें खोने का गम

बहुत सोचने के बाद समझी
प्यार तो ख़ुशी देता है
होंठो पर हसी देता है
कैसा प्यार है जिसमें
सिर्फ गम

ये प्यार नहीं आसन
जिसे हर कोई पा ले
ये तो ज़िन्दगी का जश्न सा
जो इसमें खोया अपनी हस्ती मिटा ले

रिंकी

Leave a Reply