गजल -प्यार करते नहीं मुझसे हो तो कहो |

प्यार करते नहीं मुझसे हो तो कहो |
राज दिल में छुपा राज वो तो कहो ||

मै तड़प तो रहा हूँ तुम्हे सब खबर |
खुश हुई किस कदर हाय सो तो कहो ||

ख्वाब तो खूब तुमने दिखाए मगर |
ख्वाब पूरा किया हो जो तो कहो ||

याद तेरी कभी दिल से हटती नहीं |
याद मेरी तुम्हे आई हो तो कहो ||

आज मै पूंछता क्या थी दिल की खता ?
क़त्ल दिल का किया जुर्म को तो कहो ||

शिव को शायर बनाकरके दिल ले लिया |
दिल लिया तो लिया दिल को दो तो कहो ||

आचार्य शिवप्रकाश अवस्थी
9582510029

One Response

  1. Muskaan 12/03/2014

Leave a Reply