गधा झूँठ क्यों बोला

सड़क के समीप
हरी घास का
खेत था,
बहुमूल्य जड़ी बूटियों का जाम था
लोग प्रत्यक्ष पल पल
निगरानी करते
कि कहीं से
जानवर न आ जाए
उजाड़कर न चला जाए!
न जाने फिर भी
कहाँ से ?
मोटा गधा
अधेड़ उम्र का
टहल रहा
इंसान ने उसे पकड़ा पूछा,
क्यों बे गधे ?
कहाँ से आया ?
तुझे पता है
यहाँ प्रतिबन्ध है
फिर भी निसंकोच टहल रहा है !
गधा मुस्कुराया
मुँह फाड़कर बतिआया,
सर आप मुझे नहीं
मैं आपको जानता हूँ
मैं गधा नहीं
घोडा हूँ
बहुमूल्य जड़ी बूटियों का
मूल्य अंकित कर रहा हूँ !
इंसान खिसिआया बोला,
आप जाइए कोई भी हो,
गधा लात मारते बतिआया
कोई बात नहीं
मैं जाता हूँ
किंतु ये प्रसाद
संभालकर रखिए!

Leave a Reply