राशि क्रम विधान

मानौ मेष प्रथम सदा वृषभ दूसरी होय |
मिथुन कर्क का क्रम बना सिंह पांचवीं सोय ||
सिंह पांचवी सोय कि कन्या षष्ठम जानौ |
तुला औ वृश्चिक जोड़ राशि धनु नवम बखानौ ||
दसम मकर को मान कुम्भ एकादश ठानौ |
अर्ध राशि जो होय उसी को होरा मानौ ||