उद्घोष

शब्द -शब्द को जोड़ कर ;नयी पंक्तियाँ लिख डालो

समय आ गया सिंह शावकों ;नव इतिहास बना डालो

पांचजन्य का शंखनाद कर ;रणछेत्रों  को कूच करो

रक्त बहा दो कुटिल शत्रु का ;भारत माँ के वीर सपूतों

छदम वेष में शत्रु मित्र हैं ;पहचानो सर कलम करो

अब तक मुक्त नहीं जननी है ;मुक्ति का मार्ग प्रशश्त करो

जिह्वा काटो वाचालों की ;माँ का जो अपमान करे

नष्ट समूल वंश कर डालो ;मिलकर हम संकल्प करे

जैचंदो  की फ़ौज खडीहै ;चुन -चुन कर संहार करो

जाति धर्म का कौन कहाँ है ‘इसको ना स्वीकार करो

उद्घोष करो उद्घोष करो ;जय -जय भारत उद्घोष करो

जड़वत शुषुप्त जो पड़े हुए ;जय -जय भारत संचार करो

Leave a Reply