अर्घ्य

शस्य

पल्लव परिवेष्ठित

पूज्य

प्राण वायु प्रदाता

इस पर्व पर

अर्घ्य चढाने / पुण्य कमाने

कर दिया गया निपात,

अब-

सहमा – सा

खड़ा है- नीरव-

आँगन का बिरवा ।

Leave a Reply