मुस्कुराहटों ने भी पहचान लिए है

मुस्कुराहटों ने भी पहचान लिए है ,

अपने-अपने चेहरे ,
बेशर्म मुस्कराहट रहनुमाओ के चेहरों पर ,
आम आदमी के चेहरों पर बेबसी की मुस्कराहट ,
ये यही चिपके रहते है,
मुस्कुराहट  की अपनी एक अलग होती है ,
भाषा जिसे सब समझते है ,
यह अपरिचय  की गुफाओं में ,
जुगनू की तरह चमकती है ,
ये अन्दर की चीज है
दिल से निकलती है
आप ने सुना नहीं
सोते हुए बच्चे की मुस्कराहट ,
दुनिया की सबसे खूबसूरत
चीज होती है ,

Leave a Reply