ग्रह मैत्री विचार

सूर्य मित्र कह शशि गुरु मंगल |बुध सम शनि शुक करहि अमंगल ||
चन्द्र मित्र बुध दिनकर अहहीं | मंगल  शनि शुक गुरु  सम लहहीं  ||
भौम मित्र कह शशि गुरु दिनकर |   बुद्ध शत्रु सम शुक्र शनिश्चर    ||
बुद्ध मित्र  रबि   शुक्र  बखाना| शनि गुरु कुज सम शशि रिपु माना ||
गुरु कर मित्र चन्द्र रबि भौमा |  बुध  शुक  शत्रु  शनिश्चर समा      ||
भार्गव मित्र शनी बुध जानौ | कुज गुरु सम रवि शशि रिपु मानौ  ||
रविसुत मित्र शुक्र अरु बुद्धा | गुरु सम रवि कुज विधु रह  क्रुद्धा   ||

Leave a Reply