माना इश्क की बाजार के

माना इश्क की बाजार के जालिम ही दुकानदार है |
बाजार के लाखो एजेंट और दलाल भी फरार है |
आशिको की भीड़ देखकर किसी ने पुछा ये कौन है सब ?
कोई बोला लुटे है जो हजारो बार ऐसे हजारो खरीददार है |