किसी को राह से भटकना तो काम सरकारों का है

किसी को राह से भटकना तो काम सरकारों का है |
किसी को गम में फ़साना तो काम गुनहगारो का है |
शायरों की महफ़िल सदा गमों के साथ ही  रही |
गर्दिशे गम में साथ छोड़ना तो काम गद्दारों का है |

Leave a Reply