किसी ने नजरें बिछायी है

किसी ने नजरें बिछायी है ,कोई सिजदा लगाता है |
कोई आंशू  बहा करके अपना ,गम दिखाता है |
कोई करता गुलामी आपकी थोड़ा प्यार पाने को |
कोई ऐसा भी है जो आपको आंखो में बसाता है |