जब मै जन्नत में था

जब मै जन्नत में था तो खुदा का बाग कम निकला |
जब मै जहन्नुम में गया तो जहन्नुम का तालाब कम निकला|
जब मै जमीं पे आया तो सारे जहाँ में गम निकला |
जब मेरी मय्यत उठी तो कफ़न का कपड़ा भी कम निकला |

Leave a Reply