तुम गये तो और कुछ नही हुआ…

तुम गये तो और कुछ नही हुआ
दिल पे ऐत्बार घट गया मेरा
में जो दिल के पीछे उसके नक्शे पाअ के पांव रखके चलता था
चलते चलते देखा तो निशान खत्म हो गये

तुम गये तो और कुछ नही हुआ
दिल पे ऐत्बार घट गया मेरा !!

Source:Neglected Poems Gulzar

Leave a Reply