मैं एक दिन……

मैं एक दिन तेरी यादों से गम का तराना बनाउंगा,

लोग कुछ भी कहें मैं तेरा अपना याराना बनाऊंगा,

तुम देखती रहना आँखें छुपाकर भी….

मैं खुद को खोकर एक नई सदी एक नया ज़माना बनाऊंगा!!

-_प्रीतम_-

13100