वक्त

हर वक्त मन ने सोचा कि दिल कि कुछ कहें-
उनकी आवज़ पे , जुवां पर ताले लगते गए ;

सजन

Leave a Reply