पत्थर

खुबसुरत क्या उनको कह दिया

हमको छोङकर शीशे की वो हो गई

तराशा नही था तो पत्थर थी

तराश दिया तो खुदा की हो गयी………

Leave a Reply