तब जनम लेती हैं ये बेटियाँ

तुम दुखी हो, तो दुखी होती है ये बेटियाँ,
तुम्हारी हर तकलीफ देखके रोती  है ये बेटियाँ,
उनकी आँखों में कभी आँसू मत आने देना,
बहुत सेहेनशील होती है ये बेटियाँ।।

अपने गमो को छुपाये रखती है ये बेटियाँ,
पुरे माहौल को सजाये रखती है ये बेटियाँ,
कभी उनका तिरस्कार मत करना,
बहुत कोमल सी होती है ये बेटियाँ।।

पाप तुमने किये और उसे धोती है बेटियाँ,
हर मोड़ पे अग्निपरीक्षा देती है बेटियाँ,
हसना तो जिनकी किस्मत में नही,
कुछ ऐसी होती है ये हमारी बेटियाँ।।

कभी शिकायत नहीं करती है ये बेटियाँ,
सब कुछ हस के सहती है बेटियाँ,
कितने भी जुर्म करो पर कुछ नही बोलती,
कुछ ऐसी होती है हमारी बेटियाँ।।

बे मौत मरी जाती है बेटियाँ,
गोद से पहले अर्थि पे सुलाई जाती है बेटियाँ,
भगवन का भी दिल भी कांप जाता है,
जब बलि चढाई जाती है बेटियाँ।।

भगवान् की लाडली होती है ये बेटियाँ,
सबकी दुलारी होती है ये बेटियाँ,
भगवान् भी कहता है जब मैं बहुत खुश होता हूँ,
तब जनम लेती हैं ये प्यारी बेटियाँ।।

Leave a Reply