जीवन एक गणित है

जीवन एक गणित है
बनाना है इसको यदि सुंदर
तो इसमे मित्रों को जोड़ो
दुश्मनों को घटाओ
दुखों का करो भाग
सुखों का गुणा करो
समीकरण बनाओ अच्छे कर्मों का
गुणनखंड करो अच्छे समय का
वर्गमूल निकालो घमंड का
देखना फिर कितनी अनुपम छवि उभर आएगी
भी नजर आऐगी

रेखागणित, अंकगणित और बीजगणित

One Response

  1. अमित अरविंद amitkr181@gmail.com 21/02/2013

Leave a Reply