भूल गये वो आजमाना हमें

भूल गये वो आजमाना हमें,

लफ्जों में दबी राज बताना हमें,

एक  ही बात उन्हें याद रही,

कि आता नहीं इश्क जताना हमें.

 ;-सुहानता ‘शिकन

Leave a Reply