दामिनी

नव  वर्ष  की शुभ घड़ी  शुभ बेला पर,

प्रण  ये   अपने    प्राण   से   कर   जाये !

किसी  दामिनी   के     दामन     को   अब,

 कोई    दर्द    का     दाग         दे    पाये!!

2 Comments

  1. शम्मी शर्मा pagalkavi 03/01/2013
    • admin चन्द्र भूषण सिंह 04/01/2013

Leave a Reply