अदना सही मुझे इंसान समझ ले….

दानिश्वर नहीं तो नादान समझ ले ,
अदना सही मुझे इंसान समझ ले ,

लड़ता है जो ज़ुल्म -ओ- सितम से ,
मुखालफ़त की वो ज़बान समझ ले !!

Leave a Reply